नसीरुद्दीन शाह और अनुपम खेर की कॉन्ट्रोवर्सी पर बोली नंदिता दास- 'यहां ऐसे लोग हैं जो अलग विचार रखते हैं'

By  
on  

हाल ही में बॉलीवुड के दिग्गज एक्टर नसीरुद्दीन शाह ने देश भर में चल रहे नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) विवाद पर अपनी राय रखी थी. साथ ही उन्होंने वेटरन एक्टर अनुपम खेर पर निशाना साधते हुए उन्हें 'मसखरा' कहा था. जिसके जवाब में अनुपम खेर ने उन्हें 'फ्रस्ट्रेटेड' कहा था. अब एक्ट्रेस नंदिता दास ने भी (CAA) विवाद के बारे में बात की है और नसीरुद्दीन शाह और अनुपम खेर के बयानों पर अपनी राय रखी. 

नंदिता से जब दोनों दिग्गज एक्टर के बीच पड़ी दरार पर राय देने के लिए कहा गया तो उन्होंने कहा, 'हिंदी फिल्म इंडस्ट्री एक समरूप इंडस्ट्री नहीं है. यहां ऐसे लोग हैं जो अलग-अलग विचार रखते हैं लेकिन मैं किसी को भी ट्रोल करने के पक्ष में नहीं हूं. मैं गांधीवादी सिद्धांतों की हूं'. नंदिता ने आगे (NRC) और (CAA) के आसपास चल रही बहस पर भी बात की. उन्होंने कहा, 'मैं चाहती हूं कि बाड़ लगाने वाले लोग इसमें शामिल हों. यह सब बेरोजगारी और महंगाई से ध्यान हटाने के लिए किया गया है. सरकार को शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों के साथ बातचीत करनी चाहिए. संवाद ही मुद्दे को हल करने का एकमात्र रास्ता है'.

बताते चले कि नंदिता दास ने अनुपम खेर के साथ कई फिल्मों में काम किया है जिनमे उनकी बहुचर्चित फिल्म 'हजार चौरासी की मां' (1998) शामिल है. नंदिता ने 2009 में रिलीज 'फिराक' में नसीरुद्दीन शाह को भी निर्देशित किया था. साथ ही बता दें कि नसीरुद्दीन शाह ने अनुपम खेर पर कमेंट करते हुए कहा था कि  'अनुपम खेर जैसे लोग काफी मुखर हैं. मुझे नहीं लगता कि उनको बहुत ज्यादा तवज्जो दिए जाने की जरूरत है, वह एक मसखरे हैं. जिसके बाद अनुपम ने भी एक वीडियो शेयर करते हुए नसीरुद्दीन शाह को जवाब दिया था जो कि बेहद वायरल हुआ था. 

(Source: India Today)

Recommended

Loading...
Share